‘‘काशी नारी स्वावलंबन‘‘ का हुआ आयोजन

‘‘सेवा एवं सांस्कृतिक सप्ताह’’ दूसरा दिन :
नारी के विकास से पूरा कुनबा विकसित होता है : रजत

वाराणसी। भारत विकास परिषद काशी के वार्षिक कार्यक्रम सेवा एवं सांस्कृतिक सप्ताह 32वें वर्ष भी आयोजित हो रहा है, जिसका शुभारम्भ गत् 14 अगस्त को हुआ। इस अवसर पर सेवा सप्ताह के दूसरे दिन विश्व युवा कौशल दिवस के मौके पर सोमवार की प्रातः सांई इंस्टीट्यूट आफ रूलर डवलपमेंट, बजरडीहा में ‘‘काशी नारी स्वावलंबन‘‘ कार्यक्रम का आयोजन हुआ। जहां महिलाओं के उत्थान के लिए सिलाई मशीन प्रदान किया गया। साथ ही उनके स्वावलंबन के लिए सहयोग किया गया, जिससे दो सौ से ज्यादा लोग लाभार्थी होंगे।

इस मौके पर संस्था के अध्यक्ष रजत मोहन पाठक ने कहा कि देश के विकास के लिए जरूरी है कि नारी स्वावलंबी बनें। नारी के विकास से केवल नारी ही नही बल्कि पूरा कुनबा विकास करता है। साथ ही उन्होने कहा कि जितनी जरूरत संस्था को डोनर की है, उतनी ही जरूरत हमें जेनविन लाभार्थी की जरूरत है। इस संस्थान में जहां जी.आई. प्रोडक्ट्स का प्रशिक्षण प्राप्त कर महिलाएं हुनरमंद होकर स्वावलम्बी बन रही है, तो वही धरोहर को संजो भी रही है।

इस मौके पर भारत विकास परिषद काशी ने संस्थान की महिलाओं को सिलाई के लिए दिये गये कपड़े की डिलवरी भी ली, जिसे उन्होने विगत दिनों संस्थान की महिलाओं का आत्मबल बढ़ाने के लिए दिया था। बतातें चले कि ये कपड़े शारदा आश्रम की बालिकाओं प्रदान किया जाएगा।

इससे पूर्व कार्यक्रम की शुरूवात मां भारती एवं स्वामी विवेकान्द के चित्र पर माल्यापर्ण के बाद वन्देमातरम् से हुआ। कार्यक्रम का संयोजन ममता द्विवेदी, गीता चोपड़ा, राधा अग्रवाल, रवि ढेलियाने किया।

इस अवसर पर इस अवसर पर काशी शाखा के अध्यक्ष रजत मोहन पाठक, सचिव हिमांशु पसरीचा, शैलेन्द्र रस्तोगी, सर्वेश चोपड़ा, डा0 रूबी शाह, विपिन मेहरोत्रा, सचिन जैन, अनिता जसरापुरिया, संजय अग्रवाल, शैलेन्द्र रस्तोगी, रूबी जैन आदि प्रमुख रूप से मौजूद रही।