Articles

BHU – शैक्षणिक सत्र 20-21 के लिए प्रवेश शुरू

भारत रत्न महामना पं. मदन मोहन मालवीय द्वारा सन् 1916 में स्थापित काशी हिन्दू विश्वविद्यालय सर्वाधिक प्रतिष्ठित केंद्रीय विश्वविद्यालयों में से एक हैए जिसमें 5 संस्थानए 16 संकायए 135 विभागए एक महिला महाविद्यालयए 2 अंतरविषयी विद्यालय वाराणसी स्थित मुख्य परिसर में तथा मीरजापुर के बरकछा में स्थित राजीव गांधी दक्षिणी परिसर सम्मिलित हैं। वर्ष 2019 में राष्ट्रीय संस्थागत रैंकिंग फ्रेमवर्क ;एनआईआरएफ़द्धए मानव संसाधन विकास मंत्रालयए भारत सरकार ने काशी हिन्दू विश्वविद्यालय को देश के अन्‍य विश्वविद्यालयों में से तीसरा तथा समग्र रूप से दसवाँ स्थान प्रदान किया है। भारत सरकार द्वारा विश्वविद्यालय की ख्याति व उपलब्धियों का संज्ञान लेते हुए वर्ष 2019 में इसे भारत के 20 प्रमुख प्रतिष्ठित संस्थानों (Institution of Science) के समूह में सम्मिलित किया गया है। विश्वविद्यालय युवा प्रतिभाओं के लिए उत्कृष्ट अवसर प्रदान करता है और उनकी सृजनात्मक प्रतिभा को निखारने के लिए चरित्र निर्माण पर बल देता है। देश भर से और विदेशों से कुल मिलाकर लगभग 32ए000 विद्यार्थी कम खर्च में लगभग 2000 संकाय सदस्यों के मार्गदर्शन में विभिन्न विषयों की शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं। वर्तमान में संयुक्त राज्य अमेरिकाए ब्रिटेनए कनाडाए फ्रांसए जर्मनीए आस्ट्रियाए आस्ट्रेलियाए इराकए ईरानए चिलीए पोलैंडए यमनए फ़िजीए यूक्रेनए रूसए बांग्लादेशए नेपाल तथा एस्टोनिया सहित 60 देशों के विदेशी छात्र विश्वविद्यालय में पढ़ रहे हैं। विश्वविद्यालय के स्थापना दिवस के पावन अवसर पर बसंत पंचमी, दिनांक 30 जनवरी 2020 को विश्वविद्यालय शैक्षणिक सत्र 2020.21 के लिए 25 स्नातक व 131 परास्नातक पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए पात्र अभ्यर्थियों से ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित कर रहा है। विभिन्न स्नातक व स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों में प्रवेश हेतु पूर्णतया कम्प्यूटर आधारित परीक्षा (CBT) देश के 200 शहरों में करायी जाएगी। इस वर्ष आयोजित होने वाली प्रवेश परीक्षाएं दिनांक 26 अप्रैल 2020 से 29 मई 2020 के मध्‍य नियत तिथियों पर दो पालियों में देश के सभी परीक्षा केन्‍द्रों पर सम्‍पन्‍न करायी जायेंगी। अभ्यर्थियों को सलाह दी जाती है कि आवेदन पत्र जमा करने से पूर्व वे उस पाठ्यक्रम के प्रवेश परीक्षा की तिथि देख लेंए जिसमें वे प्रवेश लेने के इच्छुक हैं। पिछले शैक्षणिक सत्र 2019.20 में आवेदकों की कुल संख्या लगभग 5 लाख थी। भारत सरकार के द्वारा निर्गत दिशानिर्देशों के आलोक में विश्वविद्यालय ने इस वर्ष से दिव्यांग आवेदको को प्रवेश परीक्षा में सम्मिलित होने हेतु देश के सभी परीक्षा केन्द्रों पर सहयोगी (scribe) की सुविधा मुहैया करने का निर्णय लिया है। ऐसे आवेदकों को अपने साथ अपना scribeजिसकी शैक्षणिक योग्यता अभ्यर्थी से एक स्तर कम हो, को भी नियत प्रारूप पर वचनपत्र (undertaking) लेकर सुलभ करायी जायेगी। अखिल भारतीय स्तर पर विश्वविद्यालय के विभिन्न स्नातक और परास्नातक पाठ्यक्रमों में प्रवेश हेतु कम्प्यूटर आधारित परीक्षा (CBT) देश के 200 शहरों में कराई जायेगी जिससे सुरक्षित वातावारण में सम्पूर्ण देश से प्रतिभागी परीक्षार्थियों को सुगमता पूर्वक सम्मिलित होने का मार्ग प्रशस्त होगा व प्रवेश परीक्षाफल प्रकाशन में समय की बचत होगी। CBT मोड द्वारा आयोजित प्रवेश परीक्षाओं में अभ्यर्थियों को प्रवेश परीक्षा के प्रश्नों का सही विकल्प परिर्वतन की सुविधा परीक्षा अवधि के दौरान उपलब्ध रहती है जिससे वे अपना सही विकल्प परिवर्तित कर सकते है। पाठ्यक्रमए आवेदन पत्रए परीक्षा तिथि इत्‍यादि संबंधी जानकारी तथा अन्य आवश्यक विवरण विश्वविद्यालय के प्रवेश परीक्षा पोर्टल www.bhuonline. in पर उपलब्ध होंगे। ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया विश्वविद्यालय के स्‍थापना दिवस बसंतपंचमी यथा दिनांक 30 जनवरी 2020 से प्रारम्‍भ हो रही है तथा ऑनलाइन आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 29 फरवरीए 2020 है।
Tags
Show More

Related Articles

Back to top button