NewsNGO

राजातालाब में आरटीई, संविधान घर पर जागरुकता शिविर का आयोजन

वाराणसी: रोहनियां, राजातालाब क्षेत्र के दलित बस्ती में 1 मार्च रविवार को आरटीई जागरुकता सह संविधान घर साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। इसकी अध्‍यक्षता करते हुए वंचित समुदाय के बच्चों को निःशुल्क शिक्षा देने वाली शिक्षिका तहनियत शेख ने कहा कि शिक्षा बिना मनुष्य पशु के समान है। शिक्षा से ही समाज में बुराईया को खत्म करके समाज को विकास की ओर ले जाया जा सकता है।

मंच संचालन करते हुए सामाजिक कार्यकर्ता राजकुमार गुप्ता ने शिक्षा के अधिकार के बारे में बताया। उन्‍होंने कहा कि शिक्षा का अधिकार प्रत्येक बच्चों का मौलिक अधिकार है। 6 से 14 आयु वर्ग के बच्चों को नि‍:शुल्क शिक्षा प्राप्त करने का अधिकार है। अतः प्रत्येक माता पिता एवं अभिभावक का यह कर्तव्य है कि वह अपने बच्चों को समय पर स्कूल जरुर भेंजे। शिक्षा के अधिकार अधिनियम 2009 को प्राप्त करें।

शिक्षिका पूजा गुप्ता ने भी अपने विचार रखें। वक्ताओ ने कहा कि जागरूकता और जानकारी के अभाव में ग्रामीण क्षेत्रों की अधिकतर सीटें रिक्त ही रह जाती हैं जिसके मद्देनजर जल्द ही जगह-जगह शिविर लगाकर वंचित समुदाय को आरटीई के तहत फार्म भरवा कर प्राइवेट स्कूलों में दाखिला करा कर शिक्षा के मुख्यधारा से जोड़ा जाएगा। उक्त अवसर पर प्रितम कुमार, अशोक कुमार वर्मा, तहनियत शेख, प्रिया राय, पूजा गुप्ता, राजकुमार गुप्ता, तमन्ना शेख, सत्तन, प्रेमा, मालती, गुड़िया आदि मौजूद थे।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button