Articles

अधिवक्ता समाज का दर्पण होता हैं – जिला जज

वाराणसी। जमीनी स्तर पर आम आदमी का कानून में विश्वास है,अधिवक्ता समाज मे प्रतिष्ठित है और न्याय की उम्मीद इन्ही से है,इसके इतर आज भी अधिवक्ता की छवि समाज मे अच्छी नही है कोई इनके नाम पर किराए पर मकान नही देना चाहता। अधिवक्ताओ को समाज मे सक्रिय भूमिका समाज मे निभाने की जरूरत है। समाज जब भी मुसीबत में होता है तब अधिवक्ता की तरफ ही देखता है इनकी गरिमा अद्वितीय है। यह निष्कर्ष सेंट्रल बार असोसिएशन मे देश के प्रथम राष्ट्रपति भारतरत्न बाबू राजेन्द्र प्रसाद के जन्मदिन और अधिवक्ता दिवस पर आयोजित’समाज के उत्थान में अधिबक्ताओ के उत्तरदायित्व विषयक संगोष्ठी में वक्ताओं ने व्यक्त किया। जिला जज यूसी शर्मा ने कहा अधिवक्ता बाबू राजेन्द्र प्रसाद के आदर्शों और विराट व्यक्तित्व को अपनाकर जनता को न्याय दिलाया जा सकता है,अधिवक्ता समाज का दर्पण होता है यह न रहे तब समाज का अस्तित्व ही नही रहेगा यह समाज का प्रहरी है। संगोष्ठी में जिलाधिकारी कौशलराज शर्मा,एसएसपी प्रभाकर चौधरी,सीजेएम रणविजय सिंह,अपर सत्र न्यायाधीश पीके सिंह,राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त रेखा वर्मा,अशोक सिंह प्रिन्स,अशोक रॉय,अशोक दाढ़ी,राधेश्याम सिंह,सत्यनरायन द्विवेदी आदि ने विचार रखा,अध्यछता सेंट्रल बार अध्यछ शिवपूजन सिंह गौतम संचालन महामंत्री बृजेश मिश्र ने किया,कार्यक्रम में बनारस बार अध्यछ राजेश मिश्र महामंत्री विनोद शुक्ल,संजय दाढ़ी,प्रेमशंकर पांडेय,विवेक सिंह,अरुण सिंह झप्पू,ऋतु श्रीवास्तव, कुलदीप पांडेय,शुशील श्रीवास्तव आदि मौजूद रहे। कार्यक्रम के आयोजक मंडल में शैलेन्द्र सिंह सरदार,रंजन मिश्र,आशीष सिंह,प्रवीण मिश्र शामिल रहे।कार्यक्रम में जिला जज,डीएम,एसएसपी,सीजेएम,विधिक पत्रकारों,बार की कार्यकारिणी को स्मृतिचिन्ह और अंगवस्त्रम देकर सम्मानित किया गया और हाल में मौजूद अधिबक्ताओ को पेन का वितरण कानून की रक्षा और पालन के लिए किया गया।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button