Articles

शिक्षा ज्ञान और संस्कार की जननी -प्रोफेसर पीसी उपाध्याय

प्राइड इंटरनेशनल स्कूल का वार्षिक समारोह संपन्न

वाराणसी: राजातालाब प्राइड इंटरनेशनल स्कूल का वार्षिक समारोह भीमचंडी में धूमधाम से संपन्न हुआ।वार्षिक समारोह को संबोधित करते हुए केंद्रीय विश्वविद्यालय बिलासपुर छत्तीसगढ़ के पूर्व कुलपति प्रोफेसर पीसी उपाध्याय ने कहा कि शिक्षा ज्ञान और संस्कार की जननी है। कहा की विद्या विनय को देती है।उन्होंने इस बात पर गंभीर चिंता व्यक्त की कि वर्तमान समय में शिक्षा सिर्फ धन कमाने के रूप में जानी जाने लगी है।कहा कि शिक्षा से संस्कार और ज्ञान प्राप्त होता है जो व्यक्ति को मानवता और इंसानियत की ओर ले जाती है। कहा कि भारतीय ग्रंथों में स्पष्ट अंकित है कि विद्या विनय को देती है।उन्होंने उच्च शिक्षण संस्थानों तथा विद्यालयों मैं आ रही संस्कृति ह्रास पर चिंता व्यक्त की। उन्होंने विद्यालयो के संचालको से ऐसी शिक्षा दिए जाने पर जोर दिया जो बच्चे को ज्ञानवान बनाने के साथ ही संस्कारवान भी बनाए।

इस अवसर पर विद्यालय के निदेशक डा ठाकुर प्रसाद सिंह ने कहा की उनका उद्देश्य है कि ग्रामीण क्षेत्र के बच्चों को बेहतर शिक्षा प्राप्त हो जिससे भविष्य में वे प्रतिस्पर्धा के लिए अपने को खड़ा कर सके। समारोह में अतिथियों का स्वागत विद्यालय की प्रधानाध्यापिका शालिनी सिंह
ने किया।
इस अवसर पर बच्चों ने एक से बढ़कर एक रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किया। बच्चों ने गीतों पर गणपत्ति बप्पा मोरया,प्रेम रतन धन पायो न,छोटी सी प्यारी सी नन्ही सी आई कोई परी,तथा आज संडे है,धीरे धीरे बाल गीत पर मनोहारी प्रस्तुतियां दी। बच्चों ने बालिका शिक्षा तथा ध्वनि प्रदूषण को लेकर नृत्य नाटिका भी प्रस्तुत की। इस दौरान जयापुर के ग्राम प्रधान नारायण पटेल, रानी बाजार के प्रधान श्याम जी जायसवाल, भाजपा के जिला महामंत्री राजेश राजभर अभिभावक संघ के अध्यक्ष अधिवक्ता हरिओम दुबे, सामाजिक कार्यकर्ता राजकुमार गुप्ता, हरीशचंद्र चौबे सहित क्षेत्र के लोग वह अभिभावक उपस्थित थे।

Show More

Related Articles

Back to top button