CampusNews

महत्वाकांक्षी मुहिम का जनक होना गर्व की बात : पाठक

वाराणसी। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का अनुसांगिक व अग्रणी सामाजिक संस्था भारत विकास परिषद् काशी के तत्वावधान में बुधवार को महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के गंगापुर परिसर में ‘‘काशी के सिपाही मुहिम’’ के अंतर्गत वूमेन मेंशुरसन हाईजीन पर आधारित पेन्टिंग प्रतियोगिता का आयोजन किया गया एवं 200 छात्राओं को सैनिट्री पैड वितरित मुहिम से जोड़ा गया।

इससे पूर्व सातवें चरण के दौरान काशी हिन्दू विश्वविद्यालय (दृश्यकला संकाय, फाइन आर्ट विभाग), जीवनदीप महाविद्यालय बड़ालालपुर, गोपीराधा बालिका इंटर कालेज रविन्द्रपुरी, बसंत कन्या महाविद्यालय कमच्छा सहित नगर के प्रमुख 15 विद्यालयों में पेन्टिंग प्रतियोगिता का आयोजन एवं छात्राओं में सैनिट्री पैड वितरित किया गया। इसी के साथ ‘‘काशी के सिपाही’’ मुहिम जो कि जनपद में अब तक की सबसे बड़ी एवं महत्वाकांक्षी महिला सेवा केंद्रित मुहिम बन चुकी है, ने अपने तीस हजार महिलाओं को लाभान्वित बनाने के लक्ष्य को हासिल कर लिया।

सूच्य हो कि विगत 12 माह में सत्र 2019-2020 के दौरान ‘‘काशी के सिपाही’’ मुहिम के तहत आयोजित पचास से ज्यादा कार्यक्रमों के माध्यम से 32389 महिलाओं को लाभान्वित बनाया जा चुका है।

संस्था के अध्यक्ष रजत मोहन पाठक ने बताया कि परिषद् के काशी शाखा द्वारा संचालित महिला सेवा केन्द्रित ‘‘काशी के सिपाही’’ मुहिम वाराणसी जनपद में अब तक की सबसे बड़ी एवं महत्वाकांक्षी मुहिम है। जिसके तहत मेंसुरेशन हाईजीन के लिए कार्य करते हुए इस मुहिम का लाभ लगभग 30000 महिलाओं तक पहुंचाने की योजना थी। मुहिम में निर्धारित लक्ष्य से ज्यादा महिलाओं का जुड़कर लाभान्वित होना अपनी सफलता को प्रमाणित करता है। हर वो शख्स साधुवाद का पात्र है जो इस मुहिम से प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से जुड़ा रहा है। जनपद की अब तक की सबसे बड़ी एवं महत्वाकांक्षी मुहिम का जनक होना आजीवन गर्व का विषय रहेगा।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close